निदेशक की कलम से
 


वर्तमान आर्थिक वैश्विकरण एवं निजीकरण ने शिक्षा के गुणात्मक पहलुओ को नष्ट कर देश की शैक्षणिक व्यवस्था को बाजार रूप दे दिया है ऐसी विकट परिस्थतियो में शिक्षा के मूल स्वरुप को बनाये रखना हम सब के सामने एक गंभीर चुनौती है सरस्वती विद्या मंदिर ज्ञानोपार्जन के क्षेत्र में अपनी विशिष्ट पहचान रखता है यह न केवल बौद्धिक प्रतिभावो को निखारने के सुअवसर प्रदान करता है अपितु विद्यार्थी को जीवन मूल्यों से साक्षात्कार करवाते हुऐ उन्हें मनुष्य बनने में सहायता प्रदान करता है संस्थान को ध्येय शिक्षार्थी को समझदार ईमानदार जिम्मेदार एवं बहादुर बनाना है ताकि वो आगे चलकर अपने परिवार व समाज व राष्ट्र के लिए समर्पित भाव से काम कर सके बहु आयामी शिक्षण विधियों द्वारा विद्यार्थी का समुचित विकास हमारी प्रथम प्रथमिकता रहती है संस्थान का उदेश्य है कि विद्यार्धी सफलता का पथ प्रशस्त करते हुवे आदर्श नागरिक बन सके शिक्षण और शिक्षणोतर गतिविधियों द्वारा संस्थान ने पिछले 26 वर्षो से सीमांत जिले के ज्ञानपिपासु विद्यार्थियों को जो शैक्षणिक ऊचाईया प्रदान की है वो विद्यालय परिवार के लिए गौरव का विषय है सरस्वती के विद्यार्थीयो ने बोर्ड परीक्षाओं ,खेल प्रतिष्पर्धा एवं सांस्कृतिक गतिविधियों में श्रेष्ठ प्रदर्शन कर इस अंचल मुख उज्वल किया है विद्यालय सतत् कर्म-पथ पर अग्रसर है ग्रामीण परिवेश और नगरीय समाज के पिछड़े तबके के विद्यार्थी को रियायती दर से गुणवत्तापरक शिक्षा प्रदान कर , यह संस्थान "दूर कुन्ज कानन "में खिलाने वाले पुष्पों के रूपक को सार्थक कर रहा है मैं जिले के जागरूक प्रबुद्धजनो से सादर अनुरोध करता हूँ कि आप कृपया अपने व्ययस्तम समय में से अल्प समय निकाल कर एक बार विद्यालय की शैक्षणिक , प्रसाषनिक एवं भौतिक व्यवस्थाओ का अवलोकन करे ताकि आपको लगे कि संस्थान विद्यार्थी विकास के लिए कितने समर्पित भाव से कार्य  कर रहा हैं संस्थान काल्पनिक एवम लुभावनी बातो पर विश्वास नहीं करते हुवे शैक्षणिक सफर पर अग्रसर है वर्तमान परिस्थियों में शिक्षा का यह पथ बहुत ही कठिन है आपके अनवरत सहयोग एवम मार्गदर्शन से हम अपने लक्ष्य में हर वर्ष सफल होते रहे है एवम हमारा विश्वास है की यह क्रम आगे भी जारी रहेगा हमारे वर्तमान तक के शैक्षणिक सफर में प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से सहभागी सभी को हार्दिक आभार एवं धन्यवाद

बालसिंह राठौड
निदेशक

 

© 2017 SARSWATI VIDYA MANDIR . All Rights Reserved
Designed & Developed by: Sandeep Dubey +91 9001230231